घोड़े से जुड़े 50 रोचक तथ्य | Horse Facts in Hindi

0
54

घोड़े (Horse) को सभी पशुओ में से स्वामिभक्त पशु माना जाता है क्योंकि घोडा इंसानों का मित्र तब से है जब से धरती पर मानवो का आवास होने लगा | प्राचीनकाल में घोड़ो (Horse) का सबसे अधिक उपयोग रणभूमि में किया जाता था | 21वी सदी में भी घोड़े का प्रयोग किया जाता है लेकिन इनका प्रयोग सिमित हो गया है और वर्तमान में ये अक्सर रेसिंग ट्रैक पर , सेना में या शादियों में देखने को मिल जायेंगे | आइये आपको घोड़े (Horse) से जुड़े रोचक तथ्य बताते है |

घोड़े की आँखे धरती पर निवास करने वाले सभी स्तनधारियो में सबसे बड़ी है |
घोड़े (Horse) अपने जन्म के कुछ घंटो बाद ही दौड़ने लगते है |
जब घोड़े आपको हंसने की मुद्रा में दिखाई देते है तो इसका मतलब वो विशेष नाक तकनीक का इस्तेमाल करते है कि गंध अच्छी है या बुरी |
एक समय में लोग सोचते थे कि घोड़े Colorblind है जबकि ऐसा बिलकुल नही है वो बैंगनी एवं हल्के नीले रंग को पील और हरे रंग से ज्यादा पहचानते है |
घोड़े (Horse) के दांत उनके सिर में उनके मस्तिष्क से अधिक स्थान लेते है |
आप नर और मादा घोड़े में पहचान उनके दांतों की संख्या के आधार पर भी कर सकते है क्योंकि नर घोड़े में 40 जबकि मादा घोड़े में 36 दांत होते है |
घोड़े (Horse) के खुर उसी प्रोटीन से बने होते है जिससे इंसान के नाख़ून और बाल बने होते है |
गाय के समान यह जुगाली नही करता अपितु एक बार में ही चबाकर दाना खा जाता है |
घोडा (Horse) प्राय: सभी स्थानों पर पाया जाता है फिर भी अरबी घोड़े सुन्दरता में और इंग्लिश घोड़े मजबूती में प्रसिद्ध है |
कई स्थानों पर घोड़े का कद छोटा होता है इसे टट्टू कहते है | जारकंद और ब्रह्मा के टट्टू प्रसिद्ध है |
घोड़े की गर्दन पर लम्बे बाल होते है और पूंछ गुच्छेदार खुरो तक लटकी होती है जबकि कई इसे छोटा भी कर देते है |
हॉर्स बॉक्स का अविष्कार यूनाइटेड किंगडम के एक व्यक्ति लार्ड जोर्ज ने इसलिए किया था ताकि वो उसके छ: घोड़ो को एक रेसट्रैक से दुसरे तक आसानी से उनको पहुचा सके |
घोड़े खड़े रहकर और बैठकर दोनों मुद्राओ में नींद निकाल सकते है |
19वी शताब्दी का “ओल्ड बिली” नामक एक घोडा 62 वर्ष जीवित रहा |
घोड़े के खुर गाय के समान फटे हुए नही होते | इनके नीचे लोहे की नाल जड़ देते है ताकि इन्हें कही चोट न आ जाए |
घोड़े की पीठ की बनावट ऐसी होती है जिससे कि सवार को बैठने में कोई असुविधा नही होती है | इसका शरीर सुडौल एवं बलिष्ट होता है |
सन 1867 से लेकर 1920 तक लगभग 2 करोड़ घोड़ो को मारा जा चूका है | विशेषज्ञों के अनुसार उनकी हत्या का कारण ऑटोमोबाइल है |
घोड़े की आँखे उनके सिर के दोनों तरफ साइड बाय साइड होती है इसलिए वो एक बार में 360 डिग्री तक देख सकते है |
घोड़े (Horse) की अधिकतम नापी गयी गति 88 किमी प्रति घंटा है जबकि औसतन 44 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से वो दौड़ सकते है |
घोड़े अपने कानो ,आँखों और नथुनों की मदद से अपने भाव व्यक्त करते है | वो चहरे के भावो से भी अपनी भावना प्रकट करते है |
घोड़े (Horse) की औसत आयु 30-40 वर्ष होती है |
घोडा (Horse) मांसाहारी नही है मांस के सिवाय प्राय: ओर सभी पदार्थ खा सकता है और घास तो इसका मुख्य भोजन है | पालतू घोड़ो को अधिक बलवान बनाने के लिए चना , मलीदा आदि देते है |
घोड़े कभी एक साथ नही लेटते है इसका कारण है कि खतरे की सम्भावना को देखते हुए उनमे से एक को अलर्ट रहना पड़ता है |
घोड़ों में उच्चारण का विशेष महत्व है जैसे जब घोड़े आपस में मिलते तो अलग उच्चारण करते है तो खतरे पर अलग |
जंगली घोड़े दक्षिणी अमेरिका में पाए जाते है लोग उनके पकडकर शिक्षित करते है | शिक्षित होकर ये इतना सध जाते है कि अनेक दुसाध्य और विस्मयजनक कार्य करने लगते है |
घोड़े (Horse) सर्कसो में ऐसा खेल करते है कि इनको देखकर बुद्धि चकरा जाती है | इनकी स्फूर्ति एवं निपुणता देखते ही बनती है |
लगभग 4.6 मिलियन अमेरिकी घोड़े के व्यापार में काम करते है | अमेरिकी हॉर्स इंडस्ट्री 39 बिलियन डॉलर की है जबकि घोड़े केवल नौ मिलियन है |
विश्व में घोड़ों (Horse) की अनुमानित संख्या 58 मिलियन होगी जिसमे से अधिकतर मनुष्यों की निगरानी में रहते है |
एक युवा घोड़े का मस्तिष्क मनुष्य के मस्तिष्क का आधा होता है |
घोड़े आज भी कई संस्कृतियों में सम्मान का प्रतीक है जैसे चीन में युद्धों के दौरान पराक्रम दिखाने वाले घोड़े को समानित किया जाता है |
घोड़े (Horse) को उल्टी नही होती |
घोड़े हर तरह की सवारियों में काम आते है | पुराने समय में टाँगे का उपयोग सवारी गाडी के तौर पर वृहद स्तर पर किया जाता था |
पाश्चात्य देशो में घोड़ो से हल चलवाए जाते है | सेना का यह अब तक प्रधान अंग रहा है | तोपखानो और घुड़सवार सेना में घोड़े ही अब तक काम आते रहे है |
घरेलू घोड़ो की केवल एक ही प्रजाति है जबकि 400 अलग अलग नस्ले उन्हें अलग अलग कामो जैसे गाडी खींचने या रेसिंग में महारथ हासिल कराती है |
घोड़े रात्रि में मनुष्य से बेहतर देख सकते है | हालांकि घोड़े की आंख को रोशनी से अँधेरे में एडजस्ट होने में मनुष्यों से अधिक समय लगता है |
पहला क्लोन घोडा वर्ष 2003 में इटली में हुआ था जिसका नाम Haflinger mare था |
घोड़ो (Horse) को मीठी सुगंध पसंद है और कडवी चीजो को वो नकार देते है |
जंगली घोड़े तीन से लेकर 20 के झुण्ड में रहते है जिसमे से परिपक्व नर घोडा दल को प्रतिनिधित्व करता है और बाकी उसका अनुसरण करते है |
घोड़े (Horse) के चमड़े से बहुत सी चीजे बनाई जाती है | हड्डियों से खिलौने एवं खुरो से सरेस बनाई जाती है |
कभी कभी यह बहुत हानि भी पहुचाता है जैसे यह कभी स्वामी से रूठ जाता है तो उसे पीठ से नीचे भी गिरा देता है |
घोडा (Horse) बड़ा स्वामिभक्त जन्तु है कई बार इसने अपनी जान देकर भी स्वामी की रक्षा की है | महाराणा प्रताप का चेतक घोडा भारत में स्वामिभक्ति के लिए सबसे अधिक प्रसिद्ध है |
भारत में घोड़े (Horse) का उपयोग प्राचीनकाल से ही होता रहा है | अश्म्वेघ यज्ञ का वर्णन पुराने शास्त्रों में आया है | अश्व चिकित्साल्य तो प्राचीन काल से चले आ रहे है |
भारत में विवाह के समय वर को घोडी पर बिठाकर वधु के घर तक ले जाने का प्राचीन रिवाज है इसलिए शहरों में आज भी घोड़े विवाह अवसरों पर देखने को मिल जाते है |
घोडा (Horse) प्रतिदिन 10 गैलन लार उत्पादन करता है |
घोड़ो को मापने की इकाई Hands है | एक Hand में चार इंच होते है | सबसे लम्बे घोड़े का नाम सेम्पसन था जिसकी उंचाई 21.2 Hands यानि 7 फीट 2 इंच थी | उसका जन्म 1846 में इंग्लैंड में हुआ था |
एक औसतन घोड़े के हृदय का वजन 9 या 10 पौंड होता है |
पानी के उपर सबसे लम्बी कूद का रिकॉर्ड 27 फीट है यह कारनामा उस घोड़े ने 25 अप्रैल 1975 में साउथ अफ्रीका में किया था |
वैज्ञानिकों का मानना है कि घोड़ो के पूर्वज 5 करोड़ वर्ष पूर्व रहे होंगे | उस प्रागैतिहासिक घोड़े को Eohippus कहते थे |
घोड़े (Horse) एक दिन में औसतन 25 गैलन पानी पी जाते है |
गुलाबी रंग के घोड़ो को सनबर्न होने की सम्भावना रहती है |